Shayari

Indian Army Shayari

Indian Army Shayari

Indian Army Shayari, we all feel proud because we are belong to Indian culture so that’s why in our services we have included the different collection of Indian Shayari which is really beneficial to you for the sharing with another people. we are included Shayari in both languages Hindi or as well as English you can use our services according to your desires . in your life If any of the member or relatives belonged to the Army then you can also use our services because here Indian Shayari included the different collection of Shayari for the Army man so that’s why they can feel proud or motivated by us .

https://justpaste.it/.

can use our services according to your desires . in your life If any of the memb

Shayari On Army Soldiers

फिर उड़ गयी नींद मेरी ये सोचकर ,

के जो शहीदों का बहा वो खून मेरी नींद के लिए था ..!!

******************************************

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा,

ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा,

पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए,

कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये ..!!

******************************************

हर वक़्त मेरी आँखों में धरती का स्वप्न हो ,

जब कभी मरू तो तिरंगा मेरा कफ़न हो ,

और कोई ख्वाहिश नहीं है ज़िन्दगी में ,

जब कभी भी जन्मु तो भारत मेरा वतन हो ..!!

******************************************

सनम को छोड़ के देख लेना,

कभी शहीदों को याद करके देख लेना,

कोई महबूब नहीं है वतन जैसा यारो,

देश से कभी इश्क करके देख लेना..!!

******************************************

आजादी की कभी शाम नही होने देगे,

शहीदों  की कुरबानी बदनाम नहीं होने देंगे  ,

बची हो जो एक बूंद भी गरम लहू की तब तक,

भारत माता का आचल नीलाम नहीं होने देंगे..!!

!! जय हिंद !!

******************************************

अधिकार मिलते नहीं लिए जाते है ,

आजाद  हैं मगर गुलामी किये जाते हैं ,

बंदन करो उन सैनिकों  का ,

जो मौत को आँचल में जिए जाते हैं ..!!

******************************************

दे सलामी इस तिरंगे को

जिस से तेरी शान हैं,

सर हमेशा ऊँचा रखना इसका

जब तक दिल में जान हैं..!!

******************************************

तैरना है तो समंदर में तैरो नालों में क्या रखा हैं,

प्यार करना है तो देश से करो औरों में क्या रखा हैं..!!

******************************************

करता हूँ भारत माता से गुजारिश कि

तेरी भक्ति के सिवा कोई बंदगी न मिले,

हर जनम मिले हिन्दुस्तान की पावन धरा पर,

या फिर कभी जिंदगी न मिले..!!

******************************************

न मरो सनम बेवफा के लिए ,

दो गज जमीन नहीं मिलेगी दफ़न के लिए ,

मरना है तो मरो  वतन के लिए,

हसीना भी दुपट्टा उतार देगी  तेरे कफ़न के लिए .!!

!! जय हिंद !!

*******************************************

किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ आया हूँ,

अपनी  नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ आया हूँ,

मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ऐ भारत माँ,

मैं अपनी माँ की बाहों को तरसता छोड़ आया हूँ !!

*******************************************

बस ये बात हवाओं को बताये रखना,

रौशनी होगी चिरागों को जलाये रखना,

लहू देकर जिसकी हिफाज़त की शहीदों ने,

उस तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना… !!

*******************************************

मैं भारत बर्ष का हमेशा अमित सम्मान करता हूँ,

यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,

मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,

तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ..!!

*******************************************

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई,

मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता,

नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई,

मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता …!!

!! जय हिंद !!

*******************************************

इश्क़  तो करता है हर कोई ,

महबूब पे मरता है हर कोई ,

कभी वतन को महबूब बना कर देखो ,

तुझ पे मरेगा हर कोई ….!!

*******************************************

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर ले ,

शहीदों के दिल में थी वो जलवा यद् करले

जिसमे बहकर आज़ादी पहुँची थी किनारे पे,

देशभक्तों के खून की वो धारा याद कर ले…!!

*******************************************

जशन आज़ादी का मुबारक हो देश वालो को,

फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालो को…!!

*******************************************

आजाद, भगत सिंह जैसे इस देश में जन्में वीर यहाँ,

कुर्बानी की इनकी गाथाएं गता है ये सारा जहाँ..!!

*******************************************

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे
बची हो जो एक बूंद भी लहू की
तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे…!!

*******************************************

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा
मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,
मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा…!!

*******************************************

मैं भारतवर्ष का हरदम अमिट सम्मान करता हूँ
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ…!!

*******************************************

खूब बहती है, अमन की गंगा बहने दो,

मत फैलाओ देश में दंगा रहने दो,

लाल हरे रंग में ना बाटो हमको,

मेरे छत पर एक तिरंगा रहने दो…!!

*******************************************

अपनी धरती अपना हैं ये वतन,

मेरा है मेरा है ये वतन इस पर जो आॅंख उठाएगा,

जिंदा दफना दिया जाएगा मुझे जान से भी प्यारा है ये वतन..!!

*******************************************

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,

मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा,

मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,

मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा..!!

*******************************************

दिल से मर कर भी ना निकलेगी वतन की उल्फ़त,
मेरे मिट्टी से भी खुशबू-ए-वतन आएगी..!!

*******************************************

जो अब तक ना खौला वो खून नही पानी हैं,
जो देश के काम ना आये वो बेकार जवानी हैं..!!

*******************************************

सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में हैं,
देखना हैं जोर कितन बाजू-ए-कातिल में हैं,
वक्त आने दे बता देंगे तुझे ए आसमां,
हम अभी से क्या बताएं क्या हमारे दिल में हैं..!!

*******************************************

लड़ें वो बीर जवानों की तरह,
ठंडा खून फ़ौलाद हुआ,
मरते-मरते भी की मार गिराए,
तभी तो देश आज़ाद हुआ..!!

*******************************************

किसी को लगता हैं हिन्दू ख़तरे में हैं,
किसी को लगता मुसलमान ख़तरे में हैं,
धर्म का चश्मा उतार कर देखो यारों,
पता चलेगा हमारा हिंदुस्तान ख़तरे में हैं..!!

*******************************************

है नमन उनको कि जो यशकाय को अमरत्व देकर,
इस जगत में शौर्य की जीवित कहानी हो गये हैं,
है नमन उनको जिनके सामने बौना हिमालय,
जो धरा पर गिर पड़े पर आसमानी हो गये हैं..!!

*******************************************

उन आँखों की दो बूंदों से सातों सागर हारे हैं,
जब मेहँदी वाले हाथों ने मंगल-सूत्र उतारे हैं..!!

*******************************************

कुछ पन्ने इतिहास के
मेरे मुल्क के सीने में शमशीर हो गएँ,
जो लड़े, जो मरे वो शहीद हो गएँ,
जो डरे, जो झुके वो वजीर हो गएँ..!!

*******************************************

चिंगारी आजादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं,
इन्कलाब की ज्वालाएं लिपटी मेरे बदन में हैं,
मौत जहाँ जन्नत हो ये बात मेरे वतन में हैं,
कुर्बानी का जज्बा जिन्दा मेरे कफन में हैं..!!

*******************************************

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता..!!

*******************************************

जशन आज़ादी का मुबारक हो देश वालो को,
फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालो को..!!

*******************************************

चले आओ मेरे परिंदों लौट कर अपने आसमान में,
देश की मिटटी से खेलो, दूर-दराज़ में क्या रखा  है..!!

*******************************************

मेरे मुल्क की हिफाज़त ही मेरा फ़र्ज है और मेरा मुल्क ही मेरी जान है ,
इस पर कुर्बान है मेरा सब कुछ , नही इससे बढ़कर मुझको अपनी जान है..!!

*******************************************

मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ..!!

*******************************************

वतन हमारा ऐसे न छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसे न तोड़ पाए कोई,
दिल हमारे एक है एक है हमारी जान,
हिंदुस्तान हमारा है, हम है इसकी शान..!!

*******************************************

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान हैं..!!

*******************************************

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे

शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे

बची हो जो एक बूंद भी लहू की

तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे..!!

*******************************************

मुझे ना तन चाहिए, ना धन चाहिए

बस अमन से भरा यह वतन चाहिए

जब तक जिन्दा रहूं, इस मातृ-भूमि के लिए

और जब मरुँ तो तिरंगा कफ़न चाहिये..!!

*******************************************

देश को आजादी के नए अफसानों की जरूरत है
भगत-आजाद जैसे आजादी के दीवानों की जरूरत है,
भारत को फिर देशभक्त परवानों की जरूरत है..!!

*******************************************

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये..!!

*******************************************

खून से खेलेंगे होली,
अगर वतन मुश्किल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना
अब हमारे दिल में है..!!

*******************************************

स्वतंत्रता दिवस पर शायरी

कुछ नशा तिरंगे की आन का है,

कुछ नशा मातृभूमि की मान का है,

हम लहरायेंगे हर जगह ये तिरंगा,

नशा ये हिन्दुस्तान की शान का है..!!

*******************************************

कर जस्बे को बुलंद जवान

तेरे पीछे खड़ी आवाम

हर पत्ते को मार गिरायेंगे

जो हमसे देश बटवायेंगे..!!

*******************************************

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा
मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,
मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा..!!

*******************************************

जिन्हें है प्यार वतन से, वो देश के लिए अपना लहू बहाते हैं
माँ की चरणों में अपना शीश चढ़ाकर, देश की आजादी बचाते हैं
देश के लिए हँसते-हँसते अपनी जान लुटाते हैं..!!

*******************************************

हलकी सी धुप बरसात के बाद,
थोड़ी सी खशी हर बात के बाद,
इसी तरह मुबारक हो आप को,
आजादी 1 दिन के बाद..!!

*******************************************

ये बात हवाओ को भी बताये रखना,
रौशनी होगी चिरागों को जलाये रखना,
लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की ..
ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना ..!!

*******************************************

देश को आजादी के नए अफसानों की जरूरत है
भगत-आजाद जैसे आजादी के दीवानों की जरूरत है,
भारत को फिर देशभक्त परवानों की जरूरत है..!!

*******************************************

वतन हमारा ऐसे न छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसे न तोड़ पाए कोई,
दिल हमारे एक है एक है हमारी जान,
हिंदुस्तान हमारा है, हम है इसकी शान..!!

*******************************************

खून से खेलेंगे होली,
अगर वतन मुश्किल में है,
सरफरोशी की तमन्ना,
अब हमारे दिल में है,
आओ मिलकर करे देश को सलाम,
बोलो मेरा भारत महान..!!

*******************************************

जिन्हें है प्यार वतन से, वो देश के लिए अपना लहू बहाते हैं
माँ की चरणों में अपना शीश चढ़ाकर, देश की आजादी बचाते हैं
देश के लिए हँसते-हँसते अपनी जान लुटाते हैं..!!

*******************************************

खुशनसीब हैं वो जो वतन पर मिट जाते हैं,

मरकर भी वो लोग अमर हो जाते हैं,

करता हूँ उन्हें सलाम ए वतन पे मिटने वालों,

तुम्हारी हर साँस में तिरंगे का नसीब बसता है..!!

*******************************************

तैरना है तो समंदर में तैरो नालों में क्या रखा हैं,

प्यार करना है तो देश से करो औरों में क्या रखा हैं..!!

*******************************************

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *