Shayari On Eyes in Hindi, English, Images, Photos download

Shayari On Eyes in Hindi, English, Images, Photos download

Shayari on Beautiful Eyes of Girlfriend, Aankhein Shayari in Hindi,  We have a very good and amazing latest collection of Nigah Shayari, Najar Shayari. Just Read out the wording that we have used in our Website.

Aankein Shayari In Hindi

We have a latest collection of Aankein Shayari In Hindi, If you have the habit to read and share Shayari on eyes with another person then this is the sign of one day you become a good poet. We also Have latest Smoking Shayari In Hindi

UthhTi Nahi Hai Aankh Kisi Aur Ki Taraf,
Paband Kar Gayi Hai Kisi Ki Najar Mujhe,
Imaan Ki Toh Ye Hai Ke Imaan Ab Kahan,
Kafir Banaa Gayi Teri Kafir Najar Mujhe.

उठती नहीं है आँख किसी और की तरफ,
पाबन्द कर गयी है किसी की नजर मुझे,
ईमान की तो ये है कि ईमान अब कहाँ,
काफ़िर बना गई तेरी काफ़िर-नज़र मुझे।

Bina Puchhe Hi Sulajh Jati Hai Sawalon Ki Gutthiyan,
Kuchh Aankhein Itni Hazr-Jawaab Hoti Hain.

बिना पूछे ही सुलझ जाती हैं सवालों की गुत्थियाँ,
कुछ आँखें इतनी हाज़िर-जवाब होती हैं।

Aankein Shayari In Hindi

Yeh Muskurati Huyi Aankhein
Jin Mein Raks Karti Hai Bahaar,
Shafaq Ki, Gul Ki,
Bijliyon Ki Shokhiyan Liye Huye.

यह मुस्कुराती हुई आँखें
जिनमें रक्स करती है बहार,
शफक की, गुल की,
बिजलियों की शोखियाँ लिये हुए।

shayari on eyes

Uss Ghadi Dekho Unka Aalam,
Neend Se Jab Hon Bhojhal Aakhein,
Kaun Meri Najar Mein Samaaye,
Dekhi Hain Maine Tumhari Aankhein.

उस घड़ी देखो उनका आलम
नींद से जब हों बोझल आँखें,
कौन मेरी नजर में समाये
देखी हैं मैंने तुम्हारी आँखें।

Jaane Kyun Doob Jata Hun Har Bar Inhein Dekh Kar,
Ek Dariya Hain Ya Poora Samandar Hain Teri Aankhein.

जाने क्यों डूब जाता हूँ हर बार इन्हें देख कर,
इक दरिया हैं या पूरा समंदर हैं तेरी आँखें।

Nigaahon Se Qatal Kar De Na Ho Takleef Dono Ko,
Tujhe Khanjar Uthhane Ki Mujhe Gardan Jhukane Ki.

निगाहों से कत्ल कर दे न हो तकलीफ दोनों को,
तुझे खंजर उठाने की मुझे गर्दन झुकाने की।

Ikraar Mein Shabdon Ki Ehamiyat Nahin Hoti,
Dil Ke Jazbaat Ki Aavaaz Nahin Hoti,
Aankhein Bayan Kar Deti Hain Dil Ki Dastaan,
Mohabbat Lafjon Ki Mohtaaj Nahin Hoti.

इकरार में शब्दों की एहमियत नहीं होती,
दिल के जज़्बात की आवाज़ नहीं होती,
आँखें बयान कर देती है दिल की दास्तान,
मोहब्बत लफ्जों की मोहताज नहीं होती।

Teri Nigah Dil Se Jigar Tak Utar Gayi,
Dono Ko Hi EkAda Mein Rajamand Kar Gayi.

तेरी निगाह दिल से जिगर तक उतर गयी,
दोनों को ही एकअदा में रजामंद कर गई।

Sagar Se Gahri Hain Aapki Ye Najren,
Khushiyon Ki Shahnai Hain Aapki Ye Najren,
Husn Ka Jaam Hain Aapki Ye Najaren,
Chhupayen Kai Armaan Aapki Ye Najren,
Le Le Na Kahin Hamari Jaan Aapki Ye Najaren

सागर से गहरी हैं आपकी ये नजरें,
खुशियों की शहनाई हैं आपकी ये नजरें,
हुस्न का जाम हैं आपकी ये नजरें,
छुपायें कई अरमान आपकी ये नजरें,
ले ले न कहीं हमारी जान आपकी ये नजरें।

Ek Najar Dekh Le Hume Jeene Ki Izazat De De,
Ai Ruthne Wale… Wo Pahli Si Mohabbat De De.

एक नजर देख ले हमे जीने की इजाजत दे दे,
ए रुठने वाले… वो पहली सी मोहब्बत दे दे।

Jab Bhi Dekhta Hun Mujhse HarBar Nazaren Chura Leti Hai,
Maine Kagaz Par Bhi Bna Ke Dekhi Hain Aankhen Uski.

जब भी देखता हूँ मुझसे हरबार नज़रें चुरा लेती है,
मैंने कागज़ पर भी बना के देखी हैं आँखें उसकी।

Usne Aankhon Se Aankhein Jab Mila Di,
Humari Zindagi Jhoom Kar Muskura Di,
Jubaan Se To Hum Kuchh Na Kah Sake,
Par Aankhon Ne Dil Ki Kahani Suna Di.

उसने आँखों से आँखें जब मिला दी,
हमारी ज़िन्दगी झूम कर मुस्कुरा दी,
जुबान से तो हम कुछ न कह सके,
पर आँखों ने दिल की कहानी सुना दी।

Kaid Khane Hain… Bin Salakhon Ke,
Kuchh Yun Charche Hain Tumhari Aankhon Ke.

कैद खानें हैं… बिन सलाखों के,
कुछ यूँ चर्चे हैं तुम्हारी आँखों के।

Deewane Hain Tere, Is Baat Se Inkaar Nahin,
Kaise Kahen Ki Hamen Tumse Pyar Nahin,
Kuchh To Kasoor Hai Teri In Aankhon Ka,
Ham Akele To Gunhagaar Nahin.

दीवाने हैं तेरे, इस बात से इंकार नहीं,
कैसे कहें कि हमें तुमसे प्यार नहीं,
कुछ तो कसूर है तेरी इन आँखों का,
हम अकेले तो गुनहगार नहीं।

Wo Bolte Rahe… Ham Sunte Rahe…
Jawaab Aankhon Mein Tha Wo Jubaan Mein Dhoondhte Rahe.

वो बोलते रहे… हम सुनते रहे…
जवाब आँखों में था वो जुबान में ढूंढते रहे।

Aankhon Par Teri Nigahon Ne Dastkhat Kya Kie,
Hamne Sanson Ki Vasiyat Tumhare Naam Kar Di.

आँखों पर तेरी निगाहों ने दस्तख़त क्या किए,
हमने साँसों की वसीयत तुम्हारे नाम कर दी।

Dekhkar Kajal Ki Lakeeren Unki Aankhon Mein,
Pahli Dafa Ye Jana Ki Ye Chaand Ki Khoobsurati Raat Se Kyun Hai.

देखकर काजल की लकीरें उनकी आँखों में,
पहली दफ़ा ये जाना कि ये चाँद की ख़ूबसूरती रात से क्यूं है।

Aankh Se Door Na Ho Dil Se Utar Jaega,
Waqt Ka Kya Hai Gujarta Hai Gujar Jaega.

आँख से दूर न हो दिल से उतर जाएगा
वक़्त का क्या है गुजरता है गुजर जाएगा।

People Also Search For Sharabi Shayari

see more about eye on wikipedia